Propellerads
Home » Technology » What is Bitcoin in Hindi – Bitcoin क्या है और Bitcoin कैसे कमाया जा सकता है ?

What is Bitcoin in Hindi – Bitcoin क्या है और Bitcoin कैसे कमाया जा सकता है ?

What is Bitcoin in Hindi

Hello Dear Friends,

आपके अपने Best E-Learning Blog CSC पर आपका स्वागत है।

दोस्तों Internet आज हमारी life को बहुत आसान बना दिया है। आजकल किसी भी तरह की जानकारी हासील करने से लेकर Shopping  करने तक के सारे काम हम Online ही internet की मदद से करने लगे है। इसी तरह से आज Online Business करना और पैसे कमाना भी बहुत आसान हो गया है। आज के समय में बहुत से ऐसे तरीके है जिनसे हम Online Earning कर सकते है। Online Earning के तरीकों के बारे में जानने के लिए आप मेरी पिछली Post “Top 7 Online Business Ideas वो भी बिना Investment के” पढ़ सकते है। Bitcoin भी उन्ही तरीको में से एक है जिसके जरिये हम Online बहुत पैसे कमा सकते हैं।  आजकल Bitcoin का बहुत ज्यादा प्रचलन में है। दुनिया के बहुत से Developers और Entrepreneurs ने Bitcoin को अपनाया है। इसके अलावा भी हजारों कंपनियों, लोगों और Non-Profit Organizations ने इस Global Bitcoin System को अपनाया है। लेकिन India मे Bitcoin का क्रेज़ अभी कम है और वो इसलिए क्योंकि हम में से ज्यादातर लोगों को Bitcoin के बारे में जानकारी ही नहीं हैै। तो दोस्तों आज की Post में हम जानेंगे की Bitcoin, Bitcoin wallet और Bitcoin Address क्या होता है? और इनका यूज कैसे किया जाता है?

Bitcoin क्या है ?

Bitcoin एक तरह की मुद्रा (Currency) ही है जो कि आम मुद्रा (रुपया, डॉलर, यूरो, दिनार आदि ) के जैसे ही हमारी निजी property होती है। लेकिन जिस तरह हम आम Currency को छु सकते है, देख सकते है या कहीं भी ले जा सकते है, उस प्रकार से हम Bitcoin को नहीं छु सकते और ना ही इसे हम हमारी जेब में रखकर कहीं ले जा सकते है। Bitcoin को हम सिर्फ Online wallet में store करके रख सकते हैं और Online ही किसी Transaction के लिए मतलब shopping आदि में काम में ले सकते है। इसी कारण से Bitcoin को Digital Currency या फिर Virtual Currency भी कहते है। Bitcoin  चूँकि एक Online यूज होने वाली Currency है तो जब भी हम इसका लेनदेन करते है, तो इसके Hack होने का खतरा हमेशा बना रहता है, इससे बचाने के लिए इसमें एक कोडिंग भाषा Cryptography का use किया जाता है और यही कारण है कि Bitcoin को  Cryptocurrency भी कहते है। इस प्रकार से Bitcoin दुनिया की पहली Cryptocurrency है।

Bitcoin का आविष्कार एक Software Developer “Satoshi Nakamoto” ने वर्ष 2009 में किया था और तब से ही इसकी लोकप्रियता लगातार बढती जा रही है। Bitcoin एक Decentralized Currency मतलब स्वतन्त्र मुद्रा है, जिसका मतलब ये है की इस पर किसी भी एक संस्था या देश का अधिकार नहीं है और साथ ही इसे control करने के लिए कोई भी bank या Authority या सरकार नहीं है। इसलिए Bitcoin का उपयोग internet पर कोई भी कर सकता है। इसका उत्पादन स्वतन्त्र रूप से कुछ विशेष Computer Algorithms के द्वारा किया जाता है जिसे “Mining” कहते है।

Bitcoin कैसे work करता है ?

जैसा कि मैंने आपको बताया है कि Bitcoin एक Virtual यानि आभासी मुद्रा है, और अगर आप के पास Bitcoins है, तो आप भौतिक रूप से इससे नोट या सिक्के के जैसे सामान नहीं खरीद सकते है। Bitcoins के द्वारा केवल Online खरीददारी ही की जा सकती है या फिर इसे किसी खाते में Transfer  किया जा सकता है। इससे जुडी सारी जानकारी Online ही रहती है और प्रत्येक Transaction के लिए एक public “Log-Book” maintain होती है। जिससे तुरंत पता चलता है की कौन कितने Bitcoins का मालिक है। Bitcoin के इस Digital Transaction Log को Block-Chain कहते है। यही Block-Chain इस बात का प्रमाण होता है की transaction हुआ है या नहीं।

Bitcoin एक Peer to peer Network पर काम करता है। इसका मतलब है कि इसके transaction में दो लोग सीधे ही आपस में connect होते है और इसके लिए किसी bank, credit card या फिर किसी third party company की आवश्यकता नहीं होती है। Bitcoin को Transactions में इस्तेमाल करने के लिए सबसे तेज़ और कुशल माना जाता है और यही वजह है कि Bitcoin का इस्तेमाल पूरी दुनिया में Global Payment के लिए किया जा रहा है।

1 Bitcoin का Value (Exchange Rate) कितना है?

Bitcoin का value आज के दिन में करीबन $1185.09 US Dollar है मतलब अगर भारतीय मुद्रा के हिसाब से देखे तो एक Bitcoin की value आज 78956.04 Indian Rupee है। इसकी value कम या ज्यादा होती रहती है क्यूंकि इसको control करने के लिए कोई authority नहीं है और इसीलिए इसकी value इसकी demand के हिसाब से बदलती रहती है।

चूँकि Bitcoin को सबसे पहले सातोशि नाकामोतों (Satoshi Namakoto)  ने बनाया था,  इसीलिए Bitcoin की सबसे छोटी इकाई(Unit) Satoshi ही है। यहाँ 10,000,000 Satoshi मिलकर 1 Bitcoin बनाते है। जिस प्रकार हम रूपये को दर्शाने के लिए Rs. लिखते है वैसे ही Bitcoin के लिए BTC, cBTC(bitcent), mBTC(em-bit) लिखा जाता है।

Bitcoin Wallet क्या है?

जैसा कि हमने देखा कि Bitcoin एक Virtual Currency है तो इसे हम सिर्फ Electronically store करके रख सकते हैं और इसे रखने के लिए हमे Bitcoin Wallet की जरुरत पड़ती है। Bitcoin Wallet  होता है और इसको हम एक Account बनाकर create कर पाते है। यह Wallet हमें address के रूप में एक Unique id प्रदान करता है और इस address को Bitcoin Address कहते है। एक Bitcoin address मिलता है जो कि निम्न प्रकार का दिखाई देता है –

Example – 5VoatSLRHtKNngkdXEeobR76b53LETtpyU

Bitcoin Address में 27 To 24 Alphanumeric Character होते है। इसी Bitcoin Address के जरिये आप अपने Wallet में bitcoin ले सकते है। अगर सीधे शब्दों में समझाया जाये तो Bitcoin Address ठीक आपके Bank Account की तरह ही होता है। अगर आपको कहीं से bitcoin खरीदना या बेचना है तो आपके पास Bitcoin Wallet का होना आवश्यक है। इसके बिना आप Bitcoin खरीद और बेच नहीं सकते। अब यदि आप bitcoin बेचते हैं तो उसके बदले आपको जितने भी पैसे मिलते हैं वो आप अपने Bank Account में इसी Bitcoin Wallet के जरिये transfer कर सकते हैं।

Must Read : Bitcoin Address यानी Account कैसे बनाये ? (Coming Soon….)

Bitcoins को कैसे बनाया (Mine) जाता है ?

दोस्तों जैसा कि मैंने आपको बताया है कि Bitcoins का कोई भी Authorized Bank या Currency Control Center नहीं है। तो अब आपके mind में सबसे पहला question यही होगा कि फिर Bitcoin को कैसे बनाया जाता है और बनाता कौन है? दोस्तों यह बहुत ही interesting लेकिन tough process(कठिन प्रक्रिया) है। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि नया Bitcoin एक Successful Transaction से बनता है।

For Example– मान लीजिये कि आपके पास कोई Bitcoin है और उस Bitcoin को आप बेचना चाहते है। अब इसके लिए आपको Bitcoin exchange की website पर जाकर exchange की एक request send करनी होती है और उसके बाद Bitcoins खरीदने वाले बहुत से लोग आपसे Contact करेंगे। अब जब आप अपना Bitcoin किसी को बेचकर send करते हो तो यह कैसे confirm होगा कि आपका Bitcoin उस buyer तक पहुँच गया है। क्योंकि Bitcoin की कोई आधिकारिक संस्था नहीं है जो उस transaction को verify कर सके। जबकि transaction को verify होना जरुरी होता है। तो उस Transaction को Verify करने वाला भी तो कोई चाहिए इसलिए बहुत से लोग Bitcoins transaction को Successful verify करने के लिए अपना खुद का “Bitcoins Verification Center” खोलते है। जैसे ही कोई seller Bitcoin send करता है तो यह पहले Verification Centers पर जाता है। जो भी Verification Center Bitcoin के Math Problem को सबसे पहले Solve करके Transaction Successful कर देता है। तो उस Verification Center को Reward में कुछ Bitcoins मिलता है और इसी तरह नए Bitcoins बनते है।

अगर आप भी चाहे तो Bitcoins Verification Center खोल सकते है। लेकिन उसके लिए आपके पास बहुत ही Powerful GPU वाल computer होना चाहिए। इसके साथ एक पावरफुल IC होनी चाहिए जो Maths Problems को Solve कर सके।

Bitcoin कैसे कमाया जा सकता है?

Bitcoin को हम 3 तरीके से कमा सकते हैं –

1. Bitcoin खरीदकर –

Bitcoin कमाने का सबसे सरल तरीका है Bitcoin ख़रीदना, क्योंकि Bitcoin की value बहुत ही तेजी से बढ़ रही है। अगर आज आप Bitcoin खरीदते है तो आने वाले 1 या 2 सालों में ही इसकी कीमत बहुत अधिक हो जाती है। अगर आपके पास पैसा है तो आप एक Bitcoin सीधे ही $1286 (82490 INR) देकर खरीद सकते हैं। अगर आपके पास इतना पैसा नहीं है तो आप पूरा एक Bitcoin नहीं खरीद कर इसकी सबसे छोटी unit “satoshi” भी खरीद सकते है। जैसे हमारे भारत में 1 रुपये में 100 पैसे होते हैं ठीक उसी तरह 1 bitcoin में 10 करोड़ ‘satoshi’ होते हैं तो आप चाहे तो bitcoin की सबसे छोटी रक़म ‘satoshi’  खरीद सकते हैं और जब धीरे धीरे उसकी price बढ़ जायेगी तब आप उसे बेच कर ज्यादा पैसे कमा सकते हैं। जैसे अगर हम बात करें इसकी value की तो 31 मार्च 2016 को इसकी कीमत 27000 रूपये थी और 31 मार्च 2017 को एक साल में बढ़कर 82490 रूपये हो गयी।

2. Online Service या Product के बदले  –

दूसरा तरीका है की अगर आप online किसी को कोई service देते है या कोई product बेचते है और उस खरीददार के पास अगर bitcoin मौजूद है तो आप उससे पैसे के बदले Bitcoin की मांग कर सकते है। ऐसे में आप अपना सामान या service तो बेच ही रहे है साथ ही Bitcoin भी कमा लेंगें, जो आपके Bitcoin Wallet में store हो कर रहेगा। अब आप चाहो तो इस Bitcoin को ज्यादा दाम पर किसी दूसरे व्यक्ति को भी बेच सकते हो और अच्छा मुनाफा कमा सकते हो।

3. Bitcoin Mining के जरिये –

Bitcoin Mining के जरिये पैसे कमाने के लिए हमें जरूरत पड़ती है बहुत ही बढ़िया प्रोसेसर वाले computer की जिसका hardware बहुत ही बढ़िया हो। जब कोई Bitcoin से पेमेंट करता है है तो उस पेमेंट को verify करने के लिए कुछ Maths की problems होती है जिन्हें solve करना पड़ता है। उन Maths की problems को solve करने के लिए बहुत बढ़िया computer चाहिए होता है जो जल्दी से उस Maths की problem को solve कर सके। अगर आपका computer इतना powerful है कि वो उस Maths की problem को solve कर सके तो आपको कमीशन के रूप में कुछ Bitcoin मिल सकते है। इस process को Bitcoin Mining कहते है। ऐसे करके हम बहुत सारे Bitcoin कमा सकते है हालांकि ये थोड़ा मुश्किल तरीका है।

अब अगर हम बात करे कुल Bitcoins की तो एक बार में अधिकतम 21 million Bitcoins एक साथ market में आ सकते है इससे ज्यादा नहीं। यह ठीक उसी तरह की प्रक्रिया है जैसे हर देश में currency को एक साल में छापने की अधिकतम सीमा होती है, ठीक उसी तरह Bitcoin के साथ भी कुछ सीमाएं हैं। यानि की bitcoin की सीमा बस 21 million है उससे ज्यादा bitcoin कभी भी पाये नहीं जायेंगे। अभी कुल Bitcoins के 75% Bitcoins market में है और जो  नए bitcoin आयेंगे वो अब mining के जरिये आयेंगे।

Bitcoin Popular क्यों है ?

  • Bitcoins के Transaction की Fees बहुत कम है।
  • पूरी दुनिया में कहीं भी Worldwide Payment भेज और प्राप्त कर सकते है।
  • विकेन्द्रीय मुद्रा प्रणाली होने के कारण ये सरकारी हस्तक्षेपों से पूरी तरह मुक्त है।
  • यह एक Open Source है मतलब इसको बिना पैसे दिए हर कोई Use कर सकता है।
  • Highly Secure System है चोरी होने का ख़तरा नहीं है।
  • Offline या Online दोनों तरीके से इसे Use कर सकते है।
  • कारोबारियों  के लिए Bitcoin  तेज, सस्ता और सुरक्षित माध्यम है।
  • इसकी Value गिरने की सम्भावना बहुत कम है  क्योंकि इसके उत्पादन की और वितरण की अधिकतम सीमा 21 million Bitcoins है।

Bitcoin use करने के नुकसान क्या है ?

  • इस Currency की कीमत बहुत तेजी से कम या ज्यादा होती रहती है, जिससे इसमें risk भी उतना ही अधिक है।
  • प्राथमिक तौर पर यह एक Digital Currency System है तथा Government इसकी monitoring नहीं करती है  जिससे इसकी आड़ में सट्टेबाजी, Drugs खरीदना बेचना, हवाला कारोबार, Black Money और कर उल्लंघन आदि बहुत आसानी से किया जाता है।
  • इसमें कोई Controlling Authority नहीं है जैसे Bank या कोई Government संस्था, इस वजह से आपके साथ fraud होने की सम्भावना रहती है।
  • किसी भी तरह से अगर आपका Bitcoin Account हैक हो जाता है तो आप Bitcoin बापस नहीं ले सकते। साथ ही पुलिस या सरकारी संस्था भी इसमें आपकी किसी भी तरह से मदद नहीं करेगी।

RBI या अन्‍य रेग्‍युलेटर ने नहीं दी मान्‍यता

इस Digital Currency को किसी भी Central Bank का समर्थन नहीं है, इसलिए निजी तौर पर ही इसके जरिए लेन-देन होता है। Bitcoin किसी कानूनी दायरे में नहीं आता है और एक Distributed Network पर होने वाले ये लेन-देन किसी भी Clearing एजेंसी से होकर नहीं गुजरते हैं। इसलिए इसमें होने वाली गड़बड़ी की जिम्‍मेदारी किसी की भी नहीं होती है, क्‍योंकि इसके लिए कोई Controlling एजेंसी नहीं है। इसके जरिए पैसा एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने के बदले में बहुत नाममात्र की फीस ली जाती है जो कि Credit Card की तुलना में बहुत कम होती है। Bitcoin के बढ़ते उपयोग पर भारतीय रिजर्व बैंक सहित दुनिया की कई रेग्‍युलेटरी संस्‍थाओं ने आगाह किया है।

जिस तरह से Bitcoin का इस्‍तेमाल लोग अपने Business में कर रहे हैं। इसका दुरुपयोग भी उसी अनुपात में बढ़ता जा रहा है। क्‍योंकि, इसके जरिए होने वाले लेन-देन में गड़बड़ी की जिम्‍मेदारी किसी की नहीं होती है। जबकि ड्रग्स की खरीद-बिक्री, हवाला, आतंकी गतिविधियों को वित्तीय मदद, टैक्स की चोरी आदि में इसके बढ़ते इस्‍तेमाल ने दुनियाभर की सुरक्षा एजेंसियों और Financial Regulators की नींद उड़ा दी है। वहीं यह technology अब कंपनियों के लिए सबसे बड़ी मुसीबत बनती जा रही है। Bitcoin के जरिए बढ़ रही फिरौती की घटनाओं ने विभिन्‍न देशों की फाइनैंशियल कंपनियों, ब्रॉकरेज फर्म और पुलिस महकमे तक को हिलाकर रख दिया है।

भारत में Bitcoin की उपयोगिता और भविष्‍य

भारत में कई योग्‍य और प्रतिभाशाली IT Experts हैं। इस लिहाज से भी यहां पर Bitcoin के लिए उचित जगह है, क्‍योंकि भारत के बहुत सारे लोग अमेरिका और यूरोप में काम कर रहे हैं। वहीं Bitcoin से पहले की अपेक्षा पेमेंट करना अब सस्‍ता हो गया है। भारत के कई Animators और Software Developers एक साथ काम करते हैं और हमेशा Bitcoin के जरिए पेमेंट करते हैं। क्‍योंकि इसके जरिए पेमेंट करना तेज और सस्ता भी है। इसलिए भारत में इस Virtual Currency के लिए जबरदस्त गुंजाइश है।

||Thank You||

तो दोस्तों ये Post थी दुनिया की नई Digital Currency ‘Bitcoin’ के बारे में हिन्दी में। उम्मीद करता हूँ कि आपको यह Post पसंद आई होगी। दोस्तों अगर आपको यह post पसंद आये तो इसे बाकी दुसरे लोगों और अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे साथ ही मेरे Facebook Page को Like करे। Dear Friends, मेरी जिम्मेदारी बनती है कि मैं आपको कुछ अच्छी और सही जानकारी प्रदान करू और अगर आप यहाँ से कुछ सीख रहे हो तो यह आपकी जिम्मेदारी बनती है कि उस जानकारी को निचे दिए गए links पर Click कर शेयर करे और अपने दोस्तों तक पहुँचाये।

About Chandan Saini

दोस्तों मेरा नाम Chandan Saini है और मैं एक IT Professional और Blogger हूँ। इस website को बनाने का मेरा एकमात्र लक्ष्य यही था कि मैं उन लोगों या students की मदद कर सकू, जो internet पर बहुत कुछ सीखना और पढ़ना चाहते है या जो blog और website मे interest तो रखते है परन्तु English अच्छी ना होने के कारण ज्यादा कुछ नही कर पाते है। आपको इस website पर Technology, Social Media, SEO, Blogging, Domain and Hosting, Success Stories, Self Improvement, Online Business, Biography, Gadgets, Tech Tips, Internet, Computer, Laptops, Mobile आदि सभी प्रकार की जानकारी हिन्दी में मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *